मोदी सरकार से संघ हुआ नाराज, अमित शाह को दी धमकी कहा- मोदी के अलावा भी हैं बहुत विकल्प ! बिठाया अंतिम पंक्ति में

6047

वृंदावन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और सहयोगी संगठनों की चल रही समन्वय बैठक में केंद्र सरकार की नीतियों पर गहन चर्चा रही है। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में शनिवार को केंद्र की आर्थिक और राजनितिक नीतियों पर चर्चा हुई। इस दौरान संघ ने साफ कर दिया कि वो अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर मोदी सरकार से खुश नहीं है। सूत्रों के मुताबिक संघ को लगता है कि सरकार रोजगार पैदा करने में नाकाम रही है। आरएसएस इसको लेकर बैठक में पहुचे अमित शाह को लगातार चेतावनी दे रही थी जिसके बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बैठक से दिल्ली लौट आये! कुछ पदाधिकारियों की माने तो संघ सबसे ज्यादा नरेन्द्र मोदी से नाराज है! नाम ना लेने की शर्त पर सूत्र ने बताया कि नरेन्द्र मोदी को लेकर अमित शाह को चुनौती भी दी गई और बोला गया कि उनके पास नरेन्द्र मोदी के अलावा भी विकल्प है!

कश्मीर-चीन के साथ डिप्लोमेटिक पर दी शाबाशी 
हालांकि मोदी सरकार को कश्मीर और चीन के साथ डिप्लोमेटिक स्तर पर मिली जीत पर संघ ने शाबाशी दी है। इन दोनों मुद्दों पर शुक्रवार को चर्चा हुई थी। इसके साथ ही संघ ने यह भी साफ किया है कि वह कई अहम मंत्रालयों के कामकाज से भी खुश नहीं है।

इस तस्वीर को गौर से देखिए. तस्वीर वृंदावन में चल रही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की समन्वय बैठक की है. इस बैठक में संघ और उसके अनुसांगिक संगठनों के पदाधिकारी इकट्ठा हुए हैं. और इन पदाधिकारियों की बैठक में पीछे से तीसरी पंक्ति में भाजपा का यह सबसे ताकतवर चेहरा भी नज़र आ रहा है. साथ में हैं भाजपा के महामंत्री रामलाल.

संघ की तीन दिन की यह बैठक एक सितंबर को शुरू हुई. इस बैठक के दौरान संघ अपने घरेलू और बाहरी मुद्दों पर चर्चा करता है और कामकाज का फीडबैक लेता है. अलग-अलग हिस्सों में और विभिन्न क्षेत्रों में हो रहे कामकाज की रिपोर्ट ली जाती है. कामकाज में आ रही अड़चनों पर चर्चा होती है, तमाम समसामयिक विषयों पर रायशुमारी होती है और साथ ही सरकार और संगठन के बीच सामंजस्य पर भी बात होती है.

मीटिंग के बाद दिल्ली लौटे शाह 
गौरतलब है कि वृंदावन में चल रहे संघ की इस मीटिंग में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी शामिल हुए थे और आज ही दिल्ली लौटे हैं। इससे पहले शाह ने वृंदावन में संघ प्रमुख भागवत के साथ बातचीत की थी। माना जा रहा है कि कैबिनेट और सरकार की नीतियों समेत कई मुद्दों पर दोनों के बीच चर्चा हुई।

Our Sponsors
Loading...