नीतीश कुमार ने सृजन घोटाले का खुलासा करने वाले अफसर का किया तबादला

548

पटना-बिहार के अरबो रूपये के सृजन घोटाले का खुलासा करने वाले अमित कुमार का तबादला कर दिया गया है.

 

वैसे तो नीतीश सरकार ने इस मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी है लेकिन जिस प्रकार अमित कुमार का तबादला हुआ है उससे नीतीश सरकार की नीयत पर सवाल खड़ा हो गया है.

अमित कुमार ने भागलपुर के उपविकास आयुक्त के रूप में इस घोटाले का पर्दाफाश किया थाभू-अर्जन विभाग के 74 करोड़ रूपए का चेक बाउंस होने से पहले नजारत का 10 करोड़ 26 लाख का चेक बैरंग लौटते ही जिला पदाधिकारी आदेश तितिरमारे ने उप विकास आयुक्त अमित कुमार से ही जांच कराई थी.इनकी जांच से ही परत दर परत घोटाले के भेद खुले.

लेकिन अमित कुमार के तबादले से नितीश सरकार की नीयत पर सवाल उठ रहा है हलाकि उन्हें लखीसराय का जिलाधिकारी बनाया गया है लेकिन ऐसा माना जा रहा है भागलपुर से उनके हट जाने के बाद जाँच निष्पक्ष होगी इसपर संदेह गहरा रहा है.

सृजन एनजीओ घोटाले में अब तक 10 एफआईआर दर्ज हो चुकी है गबन का आंकड़ा 884 करोड़ रुपए तक पहुंच चुका है. साथ ही बैंक ऑफ बड़ौदा के भागलपुर शाखा के मैनेजर रैंक के सेकंड मैन अतुल कुमार समेत कुल 12 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है.

जेल भेजने के पहले पुलिस की एसआईटी और आर्थिक अपराध शाखा की टीम ने इनलोगों से गहन पूछताछ की. ताजा जानकारी के मुताबिक सुपौल के सहकारिता अधिकारी पंकज कुमार झा समेत भागलपुर के सुभाष कुमार और बांका के सहकारिता अधिकारी संजय मंडल को भी हिरासत में लिया गया है

Our Sponsors
Loading...