NDTV जैसे न्यूज़ चैनलों से मोदी को लगने लगा है डर – [VIDEO]

741

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उन सभी न्यूज़ चैनलों व अखबार वालों से सख्त नफरत है, जो सच का उजागर करते हैं। मोदी को सिर्फ वही मीडिया पसंद है, जिन्हें वो खरीद सके और जिस पर रौब झाड़कर कुछ भी करवा सके। लेकिन एनडीटीवी न्यूज़ चैनल ऐसा बिलकुल नहीं है। शायद इसी वजह से मोदी की शुरू से ही एनडीटीवी के साथ लुक्का-छिप्पी का खेल चलता रहता है।

इसी वजह से मोदी की शह पर एनडीटीवी चैनल पर एक दिन का बैन लगाया गया था जबकि मोदी से बिके वो सभी न्यूज़ चैनल वैसे के वैसे ही चल रहे थे। जानकारी के मुताबिक एनडीटीवी चैनल को एक दिन के लिए बैन करवाने के पीछे ज़ी न्यूज़ के संस्थापक सुभाष चंद्र का सबसे बड़ा हाथ था और उसके पीछे शह पीएम मोदी की थी।

सच दिखाने पर किया था बैन
दरअसल, अंतर-मंत्रालयी पैनल को इस निष्कर्ष पर पहुंचा था कि जब भारतीय वायुसेना के शिविर पर आतंकी हमला हो रहा था, तब ‘NDTV इंडिया’ चैनल ने महत्वपूर्ण और ‘रणनीतिक रूप से संवदेनशील’ सूचनाओं को प्रसारित कर दिया था। केबल टीवी नेटवर्क (नियमन) कानून के तहत प्राप्त शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने कहा था कि “भारत भर में किसी भी मंच के ज़रिये NDTV इंडिया के एक दिन के प्रसारण या पुन: प्रसारण पर रोक लगाने के आदेश दिए गए हैं।

 

यह आदेश 9 नवंबर, 2016 को रात 12 बजकर 1 मिनट से 10 नवंबर, 2016 को रात 12 बजकर 1 मिनट तक प्रभावी रहेगा। ” आतंकी हमलों के कवरेज को लेकर किसी भी चैनल के खिलाफ दिया गया यह इस तरह का पहला आदेश है। इस बाबत नियम पिछले साल अधिसूचित किए गए थे। वहीं, अपने जवाब में चैनल ने कहा है कि यह ‘किसी बात को अपने-अपने नज़रिये से देखने’ का मामला है, और जो सूचनाएं हमने प्रसारित की हैं, वह पहले से प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया के ज़रिये जनता के सामने थीं।

Our Sponsors
Loading...