मोदी की आपत्ति हुई खारिज, अरविंद केजरीवाल पर बनी फिल्‍म नवंबर में होगी रिलीज, Watch Trailer

435

अन्ना हजारे के साथ आन्दोलन कर राजनीति में उतरने वाले अरविंद केजरीवाल की कार्यशैली का पूरी दुनिया में डंका पिट रहा है चाहे वह मुहल्ला क्लिनिक हो या सरकारी सकूलो की क्रान्ति या आड़ एंड ईवन विधानसभा के माध्यम से मोदी सरकार पर सबसे ज्यादा आक्रामक हमला करने वाले अरविन्द केजरीवाल पर यह फिल्‍म ‘एन इनसिग्‍निफिकेंट मैन’ की रिलीज डेट सामने आ गई है. इस फिल्म को रुकवाने के लिए पीम मोदी ने लाखो आपत्ति की थी उसके बावजूद वे इस फिल्म को रिलीज होने से नहीं रोक सके

ये फिल्म भारत में 17 नवंबर को रिलीज होगी और इसे अमेरिकी मीडिया कंपनी वाइस रिलीज करेगी. यह फिल्‍म निर्देशक विनय शुक्ला और खुशबू रान्का ला रहे हैं, जो एक डॉक्युमेंट्री फिल्म है. इसके जरिए उनका यह दावा है कि पहली बार किसी फिल्म में राजनीति पार्टियों के पीछे की कहानी दिखायी जाएगी. हालांकि, ऐसा करने की इजाजत उन्‍हें आम आदमी पार्टी ने ही दी और ऐसे में इस फिल्म के केंद्र में आपको सिर्फ ‘आप’ और अरविंद केजरीवाल नजर आएंगे.
arvind kejriwal afp 650

खुशबू और विनय ने केजरीवाल और उनकी पार्टी पर डॉक्युमेंट्री फिल्म का निर्माण काफी पहले ही कर लिया था और यह फिल्म कई फिल्म फेस्टिवल्स में दिखाई जा चुकी है. लेकिन इसे हाल ही में सेंसर बोर्ड से सर्टिफिकेट मिल सका है. दरअसल  इस फिल्म पर केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष पहलाज निहलानी को ऐतराज था. उन्होंने फिल्म रिलीज करने के लिए फिल्म निर्माताओं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और अरविंद केजरीवाल से एनओसी लाने को कहा था. अंत में, फिल्म प्रमाणन अपीलीय न्यायाधिकरण ने फिल्म को मंजूरी दे दी.

इस फिल्म को ‘मास्टरपीस’ बताते हुए, वाइस ने घोषणा की है कि अब वह फिल्म को पूरे भारत और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रिलीज करने कि लिए निर्माता आनंद गांधी की मेमिसिस लैब के साथ साझेदारी करेंगे. वाइस डॉक्यूमेंट्री फिल्म्स के कार्यकारी निर्माता, जेसन मोजिका ने कहा, “मैंने ‘एन इनसिग्‍निफिकेंट मैन’ टोरंटो अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल 2016 में देखी और मुझे लगा कि यह फिल्म मार्शल करी की ‘स्ट्रीट फाइट’ के बाद जमीनी राजनीति पर बनी सबसे बेहतरीन डॉक्यूमेंट्री फिल्म है.’

arvind kejriwal gopal rai pti

इस फिल्म पर केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष पहलाज निहलानी को ऐतराज था. उन्होंने फिल्म रिलीज करने के लिए फिल्म निर्माताओं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और अरविंद केजरीवाल से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) लाने को कहा था. अंत में, फिल्म प्रमाणन अपीलीय न्यायाधिकरण ने फिल्म को मंजूरी दे दी.

 

यहां देखें इस फिल्‍म का ट्रेलर-


माजिका ने कहा, ‘हम पछिले कुछ महीनों में इस फिल्म पर फिल्म निर्माताओं और सेंसर बोर्ड के बीच की लड़ाई पर करीब से नजर रखे हुए थे। वाइस हमेशा अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए लड़ रहे स्वतंत्र फिल्म निमार्ताओं को सहयोग करता रहेगा.’ माजिका ने आगे कहा, “हम इस फिल्‍म को विश्वभर में अपने दर्शकों के समक्ष इसलिए ला रहे हैं, क्योंकि हम मानते हैं कि यह किसी भी व्यक्ति के लिए एक अत्यधिक प्रासंगिक फिल्म है जो अपने राजनीतिक प्रणालियों में समस्याओं को देखता है और जिसमें व्यक्तिगत रूप से चीजों को बदलने की कोशिश करने का जज्बा दिखता है.’ हालांकि सौदे की शर्तो का खुलासा नहीं किया गया है, लेकिन कयास लगाया जा रहा है कि यह फिल्म 22 से ज्यादा देशों में दिखाई जाएगी.

(इनपुट आईएएनएस से भी)

Our Sponsors
Loading...