डीएसपी अंजन बोरा ने लगाया भाजपा महिला विधायक पर घिनौना आरोप

3741


असम पुलिस ने अपने एक विवादित अफ़सर अंजन बोरा को सस्पेंड करने की तैयारी शुरू कर दी है। असम के आईजी प्रदीप सलोई ने कहा है कि अंजन पर एफआईआर दर्जकर तफ़्तीश शुरू कर दी गई है। अंजन ने भाजपा की एक महिला विधायक पर सनसनीखेज़ आरोप लगाए हैं। डीएसपी अंजन बोरा ने फेसबुक पर लिखा था कि बीजेपी की एक महिला विधायक घिनौने व्यापार में शामिल हैं। वह दिसपुर स्थित राज्य सचिवालय की बिल्डिंग में तीन घंटे की सेवा के लिए 1 लाख रुपए लेती हैं।




इतना ही नहीं, उन्होंने इशारे-इशारे में महिला विधायक का सरनेम बताने से भी गुरेज़ नहीं किया। उन्होंने लिखा, ‘मगर उनका नाम चक्रबर्ती नहीं है। जय श्री राम, जय हिंदू भूमि।’ फेसबुक पर लिखी गई यह पोस्ट इंटरनेट पर वायरल हो गई है। हालांकि अभी इसकी पुष्टि होना बाक़ी है कि यह पोस्ट डीएसपी अंजन बोरा ने लिखी है या नहीं। मगर अंजन बोरा असम पुलिस के विवादित अफसरों में शुमार किए जाते हैं और मुस्लिम विरोधी फेसबुक पोस्ट के नाते वो पहले भी सस्पेंड हो चुके हैं। पिछले साल फरवरी में उन्होंने नफ़रत भरी एक पोस्ट में अज़ान पर आपत्ति जताई थी।

उन्होंने कहा था कि अज़ान बंद होनी चाहिए। उन्होंने यह दावा भी किया था कि वह कांग्रेस के स्थानीय नेता रफीकुल इस्लाम समेत कई मुसलमानों की हत्या कर चुके हैं। उन्होंने आगे लिखा था, ‘जय श्री राम, जय हिन्दुस्तान, जय हिंदूभूमि। हमे भारत को मुसलमान मुक़्त बनाना चाहिए।’

यह ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि, कोई भारतीय जनता पार्टी का नेता इस तरह के घिनौने कामों में पकड़ा गया हो या फिर इस तरह के घटिया कामों का उनपर इल्जाम लगा हो, ऐसा कई बार हो चूका है और भाजपा के इन नेताओं पर इस तरह के घिनौने इल्जाम आये दिन लगते ही रहते हैं। भाजपा एक ऐसी पार्टी है जो अपने आप को देशभक्त पार्टी बताती है और फिर भी इनके नेता देशद्रोही गतिविधियों में पकड़े जाते हैं।

अभी हाल ही में मध्य प्रदेश में भी भाजपा के नेता के घिनौने काण्ड का पर्दाफाश हुआ था और इससे पहले भी मध्य प्रदेश में भाजपा के नेता आईएसआई के लिए जासूसी करते हुए पकड़ें गए थे। ये सब तब हो रहा है जब मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार है। इसलिए मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार होना और इस तरह की देशद्रोही गतिविधियाँ होना, सरकार पर बहुत सवाल खड़े करते हैं।

इससे पहले भी भाजपा के कई लीडर सेक्स रैकेट चलाने के केसों में पकड़े जा चुके हैं।

        Loading…

Our Sponsors
Loading...