मोदी कर रहे सरकारी सब्सिडी छोड़ने की अपील, मंत्री के बच्चों को मिल रहा सरकारी वजीफा

202

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लम्बे समय से लोगों से अपील कर रहे हैं कि वह सरकारी सब्सिडी त्याग दें लेकिन खुद उनकी पार्टी के नेता उनकी इस अपील को नजरअंदाज कर रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार महाराष्ट्र की फडणवीस सरकार के मंत्री राजकुमार बडोले और दो प्रशासनिक अधिकारियों के बच्चों को स्कूल में सरकारी वजीफा दिया जा रहा है। मामला सुर्ख़ियों में आने के बाद फडणवीस सरकार ने सफाई दी है कि शीर्ष 100 विश्वविद्यालय की रैंकिंग में आने पर सरकारी वजीफा नियमावली में आय की सीमा कोई मायने नहीं रखती।

जबकि खुद सामाजिक न्याय मंत्री राजकुमार बडोले का कहना है कि, ‘पुराने जीआर के अनुसार ही मेरी बेटी को वजीफा मिला है। उसके लिए नियम शिथिल नहीं किए गए हैं। मैं तो वजीफा समिति में भी नहीं था।’ इस साल वजीफे के लिए अनुसूचित जाति के 35 छात्रों का चयन किया गया।

लाभार्थियों में राज्य सरकार के सामाजिक न्याय मंत्री राजकुमार बड़ोले की बेटी श्रुति, बडोले के ही विभाग के सचिव दिनेश वाघमारे के पुत्र अंतरिक्ष वाघमारे और उच्च व तकनीक शिक्षा विभाग के अधिकारी दयानंद मेश्राम के बेटे समीर मेश्राम का नाम शामिल है।

वजीफे में ये सुविधाएं

इसके तहत विदेश में डिग्री हासिल करने के लिए इकॉनमी श्रेणी से विमान का एक तरफ का किराया, शिक्षण शुल्क, भत्ते की सुविधा मिलती है। यह वजीफा इन बच्चों को मिलता है जिनके  पिता की वार्षिक आय 6 लाख से कम हो जबकि राज्य में एक कैबिनेट मंत्री को 1 लाख 80 हजार से 2 लाख रुपये तक मासिक वेतन मिलता है।

Our Sponsors
Loading...