BJP अध्यक्ष अमित शाह के साथ खाना खाने वाला परिवार सड़ा खाना खाने पर मजबूर, फोटो खिंचाकर गायब हुए BJP नेता

439

25 अप्रैल को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ भोजन करने पर नक्सलबाड़ी के महाली परिवार को भुगतना पड़ रहा है।

महाली परिवार को अमित शाह के साथ भोज करने पर गाँव से निकाल दिया गया है, अब यह परिवार कुपोषण से पीड़ित है। आपको बता दें कि यह परिवार अब राजनीतिक लड़ाई में पिस रहा है।

        Loading…

दरअसल, महाली परिवार पश्चिम बंगाल में बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के बीच चल रहे राजनीतिक लड़ाई का शिकार हो गया है।

हालाँकि, 9 दिन बाद अलग-थलग हो चुके इस परिवार ने टीएमसी का दामन थामा कि शायद उनकी हालत कुछ सुधर जाए, लेकिन इन्हें दोनों ही पार्टियों से निराशा ही हाथ लगी है।

महाली परिवार में 4 सदस्य हैं। ज़बरदस्त आर्थिक तंगी की वजह से यह परिवार दिन में एक बार खाना खाने की स्थिति में है। मजबूरी में परिवार खराब हो चुके चावल खा रहा है। लेकिन इन्हे बीजेपी और टीएमसी दोनों ही पार्टियाँ नज़रंदाज़ कर रहीं है। गरीबी की वजह से यह परिवार कुपोषण का शिकार हो गया है।

महाली परिवार की सदस्य गीता ने बताया कि “बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ भोजन करने के बाद हमने सोचा कि हमारा अच्छा समय आने वाला है, लेकिन हम गलत थे हमारा बुरा समय शुरू हो गया। हमसे टीएमसी ने भी वादे किए लेकिन उसने भी कुछ नहीं किया।” ऐसे में हमें गाँव से बाहर निकल दिया गया।

आपको बता दें कि एक स्थानीय बीजेपी कार्यकर्ता ने महाली परिवार के साथ अमित शाह के खाने की व्यवस्था की थी। यानी यह साफ़ है कि महाली परिवार को भोजन की व्यवस्था के लिए बीजेपी से मदद मिली।

महाली परिवार के साथ अमित शाह का भोजन करना महज एक प्रचार था। बल्कि बीजेपी के लिए यह पश्चिम बंगाल की राजीनीति में पैर जमाने के लिए राजनीतिक दाव था।

Courtsey : Bolta Hindustan, boltahindustan.com/eating-with-amit-shah-the-mahalli-family-of-naxalbadi-has-to-suffer/

Our Sponsors
Loading...