सूर्य मंदिर में बलास्ट करने की थी तैयारी, भाजपा नेता राहुल राज समेत चार गिरफ्तार

2609

पटना – देश के अमन चैन को तोड़ने कि लिये समाजविरोधी तत्व हमेशा फिराक में लगे रहते हैं, कभी इन असमाजिक तत्वों की तरफ से मंदिर में मांस फेंका जाता है तो कभी मस्जिद को निशाना बनाया जाता है। लेकिन बिहार में जो घटना सामने आई है उसने लोगों के पैरों तले से जमीन को खिसका दिया है, दरअस्ल अगर समय रहते पुलिस न जागती तो बिहार में न जाने कितने श्रद्धालुओं को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता।

दरअस्ल बिहार के सहरसा जिले के सदर थाना पुलिस ने महिषी प्रखंड की पस्तवार पंचायत के मुखिया समेत पांच युवकों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने दावा किया है कि गिरफ्तार किये गये पांचो लोग  सूर्य मंदिर कंदाहा में बम-ब्लास्ट करने वाले थे, लेकिन गुप्त सूचना द्वारा पुलिस ने सही समय पर गिरफ्तार कर लिया और इनकी साजिशों को नाकाम कर दिया।

पुलिस द्वारा दबौचे गये लोगों के पास से बम विस्फोटक पदार्थ के साथ डिस्टिल वॉटर, माचिस, डब्बा, बारूद, रस्सी, कांटी, शीशा सहित कई विस्फोटक सहित 35 हजार रूपये की नगदी भी बरामद की गई है। एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने गिरफ्तार किये गये युवकों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार किये गये युवकों नाम राहुल राज, नरियार निवासी विक्रम अंसारी उर्फ अकरम, न्यू कॉलोनी निवासी रंजन कुमार, मधुबनी जिले के फुलपरास निवासी नीतीश कुमार एवं बाइक पर सवार गांधी पथ निवासी सिद्धार्थ कुमार हैं।

पुलिस के अनुसार ये लोग छठ के अवसर पर आयोजित कंदाहा महोत्सव में अपना वर्चस्व स्थापित करने के मकसद से विस्फोट करने जा रहे थे। तिवारी ने बताया कि गिरफ्तार किया गया नीतीश बम बनाने का पेशेवर है। उसके खिलाफ पटना समेत कई जिलों में संगीन मामले दर्ज हैं।

मंदिर में विस्फोट करने की गरज से घर से निकले और फिर पुलिस के हत्थे चढ़ने वाले लोगों मे भाजपा का नेता भी शामिल है। गिरफ्तार युवक मुखिया राहुल राज महिषी प्रखंड से भाजपा का युवा मोर्चा का अध्यक्ष है। उधर अपने पार्टी के नेता की गिरफ्तारी पर भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष सिद्धार्थ सिंह सिद्धू ने कहा कि पुलिस द्वारा की गई जांच में राहुल के दोषी पाये जाने पर पार्टी कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि गलत आचरण वाले लोगों की भाजपा में कोई जगह नहीं है।

Our Sponsors
Loading...