योगगुरु बाबा रामदेव ने खोला नया बिजनेस, अब निजी सिक्योरिटी कंपनी खोली

609

पतंजलि के संस्थापक योगगुरु बाबा रावदेव ने 13 जुलाई को हरिद्वार में अपनी नई प्राईवेट सिक्योरिटी कंपनी ‘पराक्रम सुरक्षा प्राइवेट लिमिटेड’ का उद्घाटन किया। स्वदेशी उत्पादों के इस्तेमाल पर जोर देने वाली पंतजलि ने कहा कि पराक्रम का लक्ष्य स्वयं और देश की सुरक्षा के लिए व्यक्तियों को तैयार करना है। और इसके लिए हमने पराक्रम (सुरक्षा एजेंसी) का गठन किया है। पंतजलि के निजी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बाबा रामदेव सुरक्षा एजेंसी के लिए रिटायर्ड आर्मी और पुलिस अधिकारियों की सेवाएं लेंगे, जोकि युवाओं को ट्रेनिंग देंगे।

 

साल के अंत तक पूरी रूपरेखा तैयार
रिपोर्ट के अनुसार योगगुरु बाबा रामदेव साल के अंत तक इस योजना की पूरी रूपरेखा तैयार करने की योजना बना रहे हैं। खबर के अनुसार कई रिटायर्ड अधिकारी स्वयंसेवक के रूप में ‘पराक्रम’ को अपनी सेवाएं देने के लिए इसमें शामिल भी हो चुके हैं जोकि युवाओं को सुरक्षा तकनीक से अवगत कराएंगे। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार कुछ युवा पुरुष और महिलाएं हरिद्वार स्थित पतंजलि में बाकायदा ट्रेनिंग भी ले रहीं हैं। यहां पराक्रम सुरक्षा गार्ड के लिए युवाओं को मांसपेशियां फ्लेक्स करने, रस्सी पर चलने और दौड़ने की ट्रेनिंग दी जा रही है।

 

फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (एफआईसीसीआई) की रिपोर्ट के अनुसार भारत में प्राइवेट सिक्योरिटी का बिजनेस 40 फीसदी की दर से बढ़ रहा है। इन सिक्योरिटी कंपनियों के करीब 50 लाख ट्रेंड सुरक्षा गार्ड शॉपिंग मॉल, व्यक्तिगत तौर पर लोगों की सुरक्षा, कॉर्पोरेट जगत से जुड़ी हस्तियों की सुरक्षा व अन्य क्षेत्रों में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। साल 2006 की रिपोर्ट के अनुसार भारत निजी सुरक्षा कंपनियों का कारोबार करीब दस करोड़ तक का है।

 

2016 में रामदेव ने किया 1100 करोड़ का बिजनेस
वहीं साल 2016 की रिपोर्ट के अनुसार योगगुरु रामदेव की कंपनी ने एफएमसीजी में करीब 1100 करोड़ का बिजनेस किया था। इसी दौरान आई एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार बाबा रामदेव के सहयोगी और पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण भारत के 25वें सबसे अमीर व्यक्ति के रूप में सामने आए थे।

जिनकी कुल संपत्ति करीब 25 हजार करोड़ आंकी गई थी। बता दें कि इससे पहले योगगुरु ने घोषणा की थी कि पतंजलि जल्द ही शिक्षा और डेरी बिजनेस में भी आ रही है।

Our Sponsors
Loading...