सालों बाद जागे अन्ना हज़ारे, EVM वोटिंग के पक्ष में बोलने लगे – पढ़ें पूरी खबर

457

सबसे बड़े चतुर बनिया अन्ना हज़ारे की मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ डिनर की फोटो वायरल हुई है। भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ जंग में केजरीवाल के गुरु रहे समाजसेवी अन्ना हजारे ने कहा है कि, ‘दुनिया तेजी से तरक्की कर रही है और यहां हमलोग बैलट पेपर के जमाने में जाने की चर्चा कर रहे हैं।’ अन्ना हजारे ने कहा कि ईवीएम के इस्तेमाल में कोई दिक्कत नहीं है, और चुनावों में निश्चित रुप से इसका इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

अन्ना हज़ारे ने ये भी कहा कि, ‘मतगणना में कोई गलती न हो इसके लिए एक टोटलाइजर मशीन का भी इस्तेमाल किया जाना चाहिए।’ अन्ना हजारे की इस स्टेटमेंट के बाद ट्विटर पर उनका मिला-जुला रिस्पांस देखने को मिला। कुछ यूजर्स ने अरविंद केजरीवाल को नेता बनाने का दोष अन्ना के सर पर मढ़ा तो वहीं कुछ ने उन्हें आरएसएस का आदमी बता दिया।

अन्ना ने कहा कि ईवीएम का इस्तेमाल करना बिल्कुल सही है। फिर कहा कि चुनाव आयोग को इससे आगे बढ़कर टोटलाइजर का इस्तेमाल करना चाहिए, जिससे गलती की गुंजाइश और भी कम हो जाए।

25 सवाल जिनको सुनते ही RSS को सांप सूंघ जाता है, पढ़िए संघी क्यों घबराते हैं इन सवालों से ?

कांग्रेस को बदनाम करने के लिए अनशन पर बैठे थे अन्ना
जब सत्ता में काँग्रेस थी अन्ना जी ने लोकपाल बिल के लिए आंदोलन किया। लोकपाल बिल पास करने के लिए अनशन पर बैठे कई-कई दिन भूखे प्यासे रहे। देश में भूचाल ला दिया काँग्रेस की छवि खराब हुई जनता ने काँग्रेस को नकार दिया और भाजपा की सरकार बन गई। जबकि 3 साल हो गए भाजपा राज में लोकपाल बिल पास नही हुआ अन्ना का आंदोलन नही हुआ।

नोटबंदी में सैकड़ो लोग मरे, फिर क्यों नई बोले अन्ना
नोटबंदी में सैकड़ो लोग मर गए अन्ना का आंदोलन नही हुआ। मंहगाई तीन गुना बढ़ गई अन्ना का आंदोलन नही हुआ। देश भें बहुत कुछ उथल-पुथल हो गया अन्ना नींद से नही जागे।

Our Sponsors
Loading...