हार्दिक पटेल बने मोदी-शाह के सिरदर्द, 14 KM की रैली और 2 लाख की भीड़ ने उड़ाए होश

637


पाटीदार नेता हार्दिक पटेल इन दिनों मोदी-शाह का सिरदर्द बने हुए है। रविवार रात 8 बजे हार्दिक पटेल की सूरत में रैली निकली. रैली से उन्होंने मोदी-शाह को चेता दिया कि वे भी अपनी कमर कस चुके हैं। और जनता का साथ उनके पास भी है।

सूरत में आयोजित जनक्रांति महासभा में जनसैलाब उमड़ा। 14 किमी की रैली में 2 लाख से भी ज्यादा की भीड़ हार्दिक के साथ थी। जनसैलाब से एक ही नारे का गूंज पूरे सूरत में सुनाई दे रही थी ‘हमारा नेता कैसा हो, बिल्कुल हार्दिक जैसा हो।’

गुजरात में हार्दिक पटेल का जलवा.

हार्दिक की रैलियों को देखकर बेशक अंदाजा लगाया जा सकता है कि, जनता का झुकाव हार्दिक की ओर जा रहा है। इतना ही नहीं हार्दिक ने भी अपने ट्वीट के जरिए भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि, ”सूरत में आयोजित जन क्रांति महासभा में उमड़ पड़ा जनसैलाब,जनता का पावर क्या हैं वो भाजपा को आज पता चल गया,सूरत में मुझे यह सभा और रेली नहीं करने के लिए करोड़ों की ओफ़र भी की गई थी,लेकिन मेरा ईमान पैसो नहीं ख़रीदा जा सकता”

हार्दिक के ट्वीट से साफतौर पर समझा जा सकता है कि वे भाड़े के भीड़ की बात कर रहे हैं। और रुपए लेकर रैली रद्द करने के राज से पर्दा भी हटा रहे हैं।

गुजरात में हार्दिक पटेल का जलवा-01

सोशल मीडिया में चर्चा तेज

हार्दिक की सभा में उमड़ी भीड़ की चर्चा सोशल मीडिया में भी हो रही है। लोगों का कहना है कि युवा नेता अपनी ताकत दिखा रहा है। इसके साथ ही भाजपाई खेमा परेशान नजर आ रहा है। दरअसल कायस लगाए जा रहे हैं कि हार्दिक की इन रैलियों का असर भाजपा के गुजरात चुनाव के परिणाम में भी प़ड़ सकता है।

हार्दिक पटेल के ट्विटर से लिया गया स्क्रीनशॉट.

अंदरखाने से मिली जानकारी के अनुसार, हार्दिक की सूरत रैली के बाद भाजपा ने आनन-फानन में आला-कमानों की बैठक भी बुलाई। बैठक में चर्चा का विषय हार्दिक की रैली में उमड़ा जनसैलाब ही रहा। हार्दिक की रैलियां अब भाजपा के लिए सिरदर्द बनने लगी हैं।

भाजपा की बढ़ी मुसीबतें

हार्दिक की रैलियों में उमड़ रैली भीड़ को देखकर भाजपा परेशान है। मोदी-शाह के लिए अब हार्दिक पटेल की रैलियां सिरदर्द बनती जा रही। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, भाजपा रैलियों में उमड़ रहे जनसैलाब से बेहद चिंतित है, क्योंकि ये माना जा रहा है कि आने वाले गुजरात चुनाव में भाजपा के लिए हार्दिक की रैलियां हानिकारक साबित हो सकती हैं।

हार्दिक पटेल के ट्विटर से लिया गया स्क्रीनशॉट-01

निकाय चुनाव में मिली जीत का जश्न मनाने वाली भाजपा के आला-कमान मोदी-शाह के रातों की नींद हार्दिक पटेल की रैलियों के कारण गायब हो गई। भाजपा हर दांव-पेंच अपना रही है।

बड़े पत्रकार दे रहे हार्दिक का साथ

वहींदेश के कुछ बड़े पत्रकारों में शुमार सागरिका घोष ने हार्दिक की रैली की ट्विटर पर तारीफ की। उन्होंने लिखा कि हार्दिक अपनी शक्ति का प्रदर्शन कर रहे है। जनता उनका साथ दे रही है।

        Loading…

Our Sponsors
Loading...