‘हार्दिक की सीडी CD पर चलाई जाती है,BJP मंत्री की CD पर पत्रकार जेल पहुच जाते है’

328


नई दिल्ली-एक ही तरह के मामले में अलग अलग तरह की प्रतिक्रिया और कानूनों का विश्लेषण अब भारतीय राजनीति का अभिन्न अंग बन गया है.ध्यान देने वाली बात है कि कुछ दिन पहले छत्तीसगढ़ के एक मंत्री की सीडी रखने के आरोप में दिग्गज पत्रकार विनोद वर्मा ना सिर्फ जेल पहुच गये है बल्कि उनकी जमानत भी नही हो पा रही है.दूसरी तरफ हार्दिक पटेल की सीडी चैंनलो पर सीधे चलाई जा रही है.सबसे बड़ी बात ये है कि कभी हार्दिक पटेल के सहयोगी और अब भाजपा के करीबी आश्विन ने बाकायदा प्रेस कांफ्रेंस करके खुलेआम चुनौती देते हुए कहा है कि वो चार दिन बाद हार्दिक पटेल की एक और सीडी वायरल करेंगे.



मीडिया,प्रशासन और जनता में एक ही मामलो की अलग अलग नैतिकता बनाने वाले पेशेवर संघठन दोहरे मापदंड से ग्रस्त हो चुके है और कुछ हद तक जनता भी इसी में जीना चाहती है.हार्दिक पटेल की सीडी वायरल होने पर आम आदमी पार्टी के विधायक सौरभ भारद्वाज ने एक ट्वीट के ज़रिये इस मानसिकता को उजागर करने की कोशिश की है.

सौरभ भारद्वाज ने लिखा..संदीप और हार्दिक की CD ख़ूब TV पर चलाई,चलो कोई नहीं।भाजपा सांसद की CD आयी,तो लड़की जेल में। छत्तीसगढ़ के मंत्री की CD आयी तो पत्रकार जेल में

        Loading…

भाजपा को ज़बाब देना चाहिए
भारतीय जनता पार्टी ने हाल ही में छत्तीसगढ़ में एक मंत्री के सीडी पर जाने माने पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी को जायज ठहराने के लिए कहा था कि पत्रकार ब्लैकमेल कर रहे थे और उनके पास से सैकड़ो सीडी बरामद हुई है.अगर सीडी रखना,बनाना और उसको खुलेआम रखने का दम भरते हुए धमकी देना गलत है तो सीडी टीवी पर चलाने पर चैंनल के खिलाफ,एक और सीडी वायरल करने की बात कहने वाले आश्विन के खिलाफ गुजरात सरकार को कार्यवाई करते हुए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा विनोद वर्मा की गिरफ्तारी को न्याय संगत बनाना चाहिए.अन्यथा भाजपा नैतिकता की कसौटी पर असफल है.

Our Sponsors
Loading...