हाथ में डंडी लिए इन संघी निक्करधारियों से ‘सैनिकों’ की तुलना न करें, सेना के जवान बहादुर होते हैं

99

संघ प्रमुख मोहन भागवत के भारतीय सेना पर आपत्तिजनक टिप्पणी की चारों तरफ से आलोचना हो रही है। संघ प्रमुख के इस बयान पर कांग्रेस ने उन पर जोरदार हमला किया है।

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने मोहन भागवत के बयान को सेना का अपमान बताते हुए ट्वीट किया था। इसके साथ ही सोशल मीडिया साईट ट्विटर पर भी संघ प्रमुख की खूब आलोचना हो रही है।

अब इस मामले पर कांग्रेस के नेता शशि थरूर ने बयान दिया है। शशि थरूर ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, “मोहन भागवत के बयान को सुन कर मैं हैरान हूं, सेना की आरएसएस से तुलना करना बिलकुल बेतुकी बात है।”

शशि थरूर ने कहा कि हमे सेना को राजनीतिक मामलों में नहीं घसीटना चाहिए। उन्होंने संघ पर तंज कसते हुए कहा कि, “हाथ में लाठी लिए, खांकी निक्कर पहने युवाओं को भारतीए सेना से तुलना करना गलत है।”

बता दें कि संग प्रमुख मोहन भागवत ने मुजफ्फरपुर में संघ की खूबी गिनाते हुए जाने अनजाने में भारतीय सेना से खुद को ज्यादा तत्पर बताया था।

उन्होंने ये भी कहा था कि, “आरएसएस के पास तीन दिन के भीतर सेना तैयार करने की क्षमता है, वहीं भारतीए सेना को सैन्यकर्मियों को तैयार करने में छह-सात महीने लग जाएंगे।”

        Loading…

Our Sponsors
Loading...