विडियो: इस भगवा नेता को जो इस पुलिस वाले ने कहा, उसे सुनकर आप भी करोगे दिल से सलाम

75

जब से यूपी में योगी सरकार आई है, धर्म के नाम पर हिंसा बढती ही जा रही है. एक विडियो सामने आया है जो सोशल मीडिया में काफी तेजी से वायरल हो रहा है. यह विडियो यूपी के मेरठ का है जिसमे एक भगवा टीचर को एक पत्रकार से उसका मोबाइल जबरदस्ती छिनना महंगा पड़ गया. बात जब थाने पहुंची तो भगवा टीचर गिड़गिड़ाने लग जाता है और कहता है की मुझे नही पता था की ये एक पत्रकार है तो उसके जवाब में पुलिस ऑफिसर कहता है, “मेरे पिता भी स्कूल में प्रिंसिपल रहे है, मेरे भाई भी टीचर है लेकिन अगर टीचर चलो ये तो आपको नही पता था की ये पत्रकार है वरना आप आम आदमी को क़त्ल कर दोगे”

yogi-adityanath-up-cm

आगे कहते है “ये जो आप नयी भगवा गुंडई यहाँ आप चला रहे हो तो फिर भाईसाहब हम क्या करे चूड़िया पहन ले, हिन्दू और मुस्लिम में आप भेद करते होंगे करे, लेकिन एक टीचर फ़र्ज़ क्या है”

भगवा टीचर को आगे समझाते हुए कहते है “टीचर वो है जो सभी वर्गों के बच्चों को समान तरीके से पढाये, ना वो हिन्दुओं में भेद करे, अगर आपकी आत्मा झझकोर रही है ना तो आपको अभी आपको इस्तीफा दे देना चाहिए इस पद से और आपको लौट जाना चाहिए”

आगे कहते है, “ये माफ़ी किसी हिंदूवादी नेता को नही मिल रही सर” “आपको अगर ये इज्जत मिल रही ना, इसलिए मिल रही है क्यूंकि आप टीचर है” आगे भगवा टीचर से तीखा सवाल पूछते है की “ये कौनसी शिक्षा दे रहे आप, की सिर्फ नाम, पार्टी और पैसे के लिए आप वर्ग बंटवारा कर दोगे, अगर टीचर ऐसा करने लग जायेगा तो समाज तो बिखर जयेगा, फिर तो कहीं प्यार नही रहेगा”

gau-rakshak

आगे कहते है “ये पत्रकार नही होते तो आप किसी को भी मार लेंगे, कैसे मार लेंगे, फिर हमारा क्या फ़र्ज़ होगा” आगे कहते “में आपको एक चेतावनी के साथ छोड़ रहा हूँ, ये गुंडई इस शहर में से खत्म कर दीजिये, नही तो ये गुंडई हम खत्म करेंगे आपकी”

जाते-जाते भगवा टीचर कहता की बैठ के बात करेंगे तो उसके जवाब में कहते है की, “हमसे बैठ के क्या बात करना, कोई समझोता तो हमारा है ही नही सर” सभी पुलिस वाले इनके जैसे ईमानदार हो जाये तो, देश से भगवा गुंडागर्दी खत्म हो जाये.

Our Sponsors
Loading...