राहुल गाँधी ने राजकोट में उठाया ऐसा सवाल कि खड़ा हो गया हंगामा….

773


गुजरात चुनाव भाजपा के लिए ऐसा छछूंदर हो गया है जो सांप के गले में अटका है और वो उसे न तो थूक पा रहा है और न ही निगल पा रहा है | इस चुनाव ने पूरे देश का ध्यान अपनी ओर खींचा हुआ है और इस चुनाव पर पूरा देश लगातार अपनी नजर बनाये हुए है | यहाँ से रोज ऐसी ऐसी ख़बरें सामने आरही हैं जिससे भाजपा की मुश्किलें बढती जा रही हैं और चुनाव उसके हाथ से निकलते हुए नजर आरहा है |

कांग्रेस गुजरात चुनाव में कर रही बहुत मेहनत
कांग्रेस इस चुनाव में बहुत मेहनत करते हुए नजर आरही है और कांग्रेस की तरफ से उनके स्टार प्रचारक राहुल गाँधी लगातार गुजरात में रैलियां करते हुए देखे जा रहे हैं | इन रैलियों में वो ऐसी ऐसे प्रश्न उठा रहे हैं जिनसे भाजपा की मुश्किलें बढ़ रही हैं और जनता को भाजपा की हकीकत मालूम हो रही हैं | अभी राहुल गाँधी ने हाल ही में राजकोट में एक रैली में संबोधित करते हुए बहुत अहम प्रश्न उठाये हैं |

राहुल गाँधी ने उठाये ये सवाल
राहुल गाँधी लगातार आक्रामक भूमिका निभाते हुए इस चुनाव में नजर आरहे हैं और इसी सिलसिले में उन्होंने राजकोट में सवाल उठाते हुए कहा कि भाजपा ने न तो सुरक्षा, न शिक्षा,न पोषण दिया और वहीँ महिलाओं के हिस्से सिर्फ शोषण आया है | आंगनवाड़ी और आशा के हिस्से आई बस निराशा | गुजरात की बहनों से जो किया वादा उसे पूरा करने का नहीं भाजपा का कोई इरादा |इन सवालों और मुद्दों से भाजपा बौखला रही है और बहुत ही ओछेपन का परिचय देते हुए भाजपा के नेता दिख रहे हैं जिससे उनकी इस चुनाव को हारने की जो घबराहट है वो पूरा देश देख रहा है |

गुजरात में हुआ जबरदस्त हंगामा
राजकोट में प्रचार के दौरान बहुत बड़ा हंगामा देखा गया है | दरअसल मामला कुछ ऐसा है कि कांग्रेस के उम्मीदवार इन्द्रनील राज्यगुरु के भाई दीपू प्रचार के लिए पोस्टर लगा रहे थे और इसी बात को लेकर दुसरे पक्ष वालों ने उन पर हमला बोल दिया फिर इस मुद्दे ने बहुत बड़े हंगामे का रूप ले लिया|कांग्रेस ने आरोप लगाते हुए कहा है कि उनके साथ मारपीट की गयी और जानलेवा हमला भी हुआ | दीपू को अस्पताल में भर्ती कराया गया है | दीपू के साथ प्रचार के दौरान कांग्रेस के नेता राजीव सातव भी थे जिन्होंने इस घटना की जानकारी दी | इस घटना के बाद कांग्रेस के समर्थकों ने गुजरात के मुख्यमंत्री के घर का घेराव भी किया जिसके बाद पुलिस ने इन्द्रनील और उनके समर्थकों को हिरासत में ले लिया|




वहीँ गौर करने वाली बात ये हैं कि खुद मोदी कितनी रैलियां करते हुए कांग्रेस को सबसे भ्रष्ट बता रहे हैं जबकि अगर ऐसा कुछ है तो सता उनकी है फिर भी वो किसी भी कांग्रेस के नेता के खिलाफ अभी तक एक भी आरोप पत्र दाखिल नहीं कर पाए | जब ऐसा कुछ है नहीं तो किस आधार पर और किस अधिकार से वो यूपीए को ऐसा भ्रष्ट कहते हैं?

        Loading…

Our Sponsors
Loading...