राष्ट्रपति कोविंद की पुत्रवधू ने की बीजेपी से बगावत, पार्टी में मचा हड़कंप

376

जिले की झींझक नगर पालिका का चुनाव में भाजपा के लिए उस समय मुश्किल स्थिति में आ गयी जब यहाँ भारत के मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की पुत्रवधू ने चुनाव में उतरने का एलान कर दिया है, बता दे रामनाथ कोविंद के परिवार से यहाँ दो लोगों ने भाजपा से टिकेट माँगा था लेकिन भाजपा ने किसी और को टिकेट दे दिया, इससे नाराज़ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की बहू ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का एलान कर दिया है।



राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी..!

झींझक नगरपालिका चुनाव के लिए राष्ट्रपति कोविंद के भतीजे पंकज कोविंद की पत्नी दीपा ने भाजपा से टिकेट ना मिलने के बाद आज़ाद उम्मीदवार के रूप में उतरने का फैसला लिया है। दीपा के चुनाव मैदान में उतरने से भाजपा को झटका लगा है, फिलहाल भाजपा दीपा को मनाने में जुटी है। कानपुर की झींझक नगरपालिका सीट अनुसूचित महिला के लिए रिज़र्व है।




राष्ट्रपति कोविंद झींझक के ही रहने वाले हैं, उनके परिवार से दो लोग यहाँ भाजपा का टिकेट मांग रहे थे लेकिन भाजपा ने दोनों को दरकिनार करके सरोजनी कोरी को उम्मीदवार बना दिया, इससे नाराज़ होकर राष्ट्रपति के भतीजे पंकज कोविंद की पत्नी दीपा ने बतौर निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद…!
        Loading…

राष्ट्रपति के भतीजे पंकज का कहना है कि वो काफी दिनों से चुनाव की तैयारी कर रहे थे, झींझक की जनता के कहने के बाद ही दीपा ने चुनाव में बतौर निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव लड़वाने का फैसला किया है। गौरतलब है कि भाजपा के लिए ये चुनाव विधानसभा के बाद पहला टेस्ट है भाजपा नही चाहती है कि निकाय चुनाव में विपक्ष कोई कामयाबी हासिल कर पाए क्युकि इससे सरकार के विरुद्ध सन्देश जायेगा। इस बार निकाय चुनाव में बसपा और आम आदमी पार्टी भी उतर रही है वही भाजपा ने कई ज़गह मुस्लिमो को टिकेट दिया।

Our Sponsors
Loading...