राम मंदिर को लेकर पत्रकार साक्षी जोशी ने मुसलमानों पर दिया ये बयान

142

अयोध्या में राम मंदिर-बाबरी मस्जिद के विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई शुरू कर दी है। सुप्रीम कोर्ट ने दोनों पक्षों से मामले से संबंधित दस्तावेज़ देने को कहा है, कोर्ट ने ये भी साफ़ किया है कि मामले की सुनवाई आस्था के आधार पर नही बल्कि संपत्ति के स्वामित्व के आधार पर होगी।

इस बीच अयोध्या विवाद को लेकर न्यूज़ चैंनल में डिबेट शुरू हो गयी, News24 की एंकर साक्षी जोशी ने अपने चैंनल में हुई डिबेट के बारे में ट्विट्टर पर कई टिप्पड़ी की है। साक्षी जोशी ने अपने पहले ट्वीट में लिखा…

साक्षी जोशी का ट्वीट-01

“राम मंदिर पर अपनी डिबेट के बाद वहाँ मौजूद भीड़ ने इस तरह श्री राम के नारे मेरे मुँह पर लगाए कि पहली बार अपने देश में एक हिंदू होते हुए मुझे अल्पसंख्यकों का दर्द और डर महसूस हुआ। मैं कोई भी सवाल करूँ राम मंदिर तो बनकर ही रहेगा जैसे नारे लगाए गए।कोर्ट की कोई इज़्ज़त ही नहीं”

साक्षी जोशी का ट्वीट-02

एक और ट्वीट में उन्होंने लिखा…”मैं भी एक हिंदू हूँ। श्री राम में मेरी भी आस्था है।उसके बावजूद अपने धर्म को दरकिनार रखकर अगर मैं पत्रकारिता कर रही हूँ,दोनों पक्षों से सवाल कर रही हूँ तो मैं देशद्रोही कैसे हो गई?भीड़ से आवाज आई जो राम मंदिर के पक्ष में नहीं वो देश छोड़ दे।मुबारक हो नेताओं आपने ज़हर घोल ही दिया।”

आपको बता दे कि, इससे पहले महिला पत्रकार साक्षी जोशी को एक भक्त ने सोशल मीडिया में गालियाँ दी थी. संदीप उपाध्याय नाम के शख्स ने सोशल मीडिया में लिखा था कि, ‘ये सही है अगर यूपी में रहना है तो योगी-योगी कहना ही होगा… जय योगी जय हिंदू युवा वाहिनी.’ इसके जवाब में पत्रकार साक्षी जोशी ने कहा था कि, ‘हम यूपी में ही रहेंगे और हम तो नहीं कहेंगे. बताओ क्या कर लोगे?’

साक्षी जोशी का बयान-01


इसके बाद संदीप उपाध्याय नाम के भक्त ने पत्रकार साक्षी जोशी को भद्दी-भद्दी गालियाँ देनी शुरू कर दी. इसके बाद साक्षी जोशी ने इस भक्त के खिलाफ केस दर्ज कर दिया.

बाद में साक्षी जोशी ने खुद सोशल मीडिया में लिखा कि, ‘ये कोई संदीप उपाध्याय हैं. इन्होने फेसबुक पर मेरे एक कमेंट के जवाब में बहुत ही अभद्र और अश्लील टिपण्णी की है. मैंने इनकी तरह अभद्र टिप्पणी करने के बजाय कानून का रास्ता लेना बेहतर समझा. इनके खिलाफ IPC की धारा 509 और IT एक्ट की धारा 66 के तहत मुकदमा दर्ज हो चूका है.

साक्षी जोशी का बयान-02

बेहतर है कि ऐसे माँ बहनों को गाली देने वाले so called नेशनलिस्ट अब भी संभल जाएँ. ये लोग समझ ले कि मैं एक आज़ाद मुल्क में रहती हूँ और जानती हूँ कि कानून सिर्फ सो कॉल्ड नेशनलिस्ट और रेपिस्ट सोच वालों के लिए ही नहीं है. I thank NOIDA POLICE for prompt action. Sandeep upadhyay see you in Court now.’

        Loading…

Our Sponsors
Loading...