यूपी में दलितों ने लिखा ‘ये घर बिकाऊ है’ क्योंकि यहाँ योगी की जातिवादी पुलिस का आतंक है

286

एक तरफ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ प्रदेश में रामराज्य लाने की बात करते है। वहीं सबको साथ लेकर चलने की बात करते हैं लेकिन सबको साथ लेकर चलने वाली बाद असल में काफी दूर है।

हमारे देश की सरकार चाहे कितनी भी बदल जाएं लेकिन दलितों पर अत्याचार के मामले शायद ही कम हों। आजादी के पहले से ही दलितों के साथ भेदभाव और अत्याचार होता आया है।

        Loading…

दलितों पर अत्याचार का एक और मामला सामने आया है। हाल में ही हाथरस में दलितों पर अत्याचार की खबर सामने आई है जिससे सीएम योगी की बात झूठ साबित हो रही है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के कस्बा सहपऊ क्षेत्र के मोहल्ला जाटवपुरी के दलित पुलिस के रवैये से परेशान है। जिसकी वजह से यहां के सैकेड़ो दलित परिवार घर छोड़ने को मजबूर है। वहीं सभी ने अपने-अपने घरों के बाहर नीले रंग से लिखा दिया है कि ‘ये घर बिकाऊ है।’

यहां के लोगों का आरोप है कि पुलिस एकतरफा कार्यवाही कर रही है। बता दें कि 21 अक्टूबर को एक ग्राहक और दूकानदार में दूध के ऊपर बहस हो गई थी। जिसके बाद बहस इतनी बढ़ गई कि कुछ लोगों ने दुकानदार की पिटाई तक कर दी।

इस मामले के बाद तनाव इतना बढ़ गया कि दोनों तरफ से पथराव शुरू हो गया। वहीं पथराव से बाजार में भगदड़ शुरू हो गई। भगदढ़ में कई लोग घायल हो गए।

इस मामले की खबर पुलिस को लगी तो पुलिस ने दलितों के खिलाफ ही कार्यवाई कर दी। पुलिस ने इस मामले में एक लड़के को जेल भी भेज दिया। दलित समाज पुलिस के इस तरह के रवैए से काफी गुस्से में है वहीं इस घटना के बाद गांव के सारे पुरुष घर छोड़कर भाग गए हैं। अब गांव मे सिर्फ महिलाएं और बच्चे ही रह गए हैं।

बताया जा रहा है कि इस मामले में उच्च अधिकारियों से शिकायत भी कि गई लेकिन अधिकारियों ने दलितों की एक भी बात नहीं सुनी। वहीं जब इस घटनाक्रम के बारे में हाथरस के प्रभारी मंत्री उपेंद्र तिवारी से बात की गई तो उन्होंने अपनी सरकार का बचाव करते हुए कहा कि हमारी सरकार में कोई भयभीत नहीं है किसी को कहीं जाने की जरुरत नहीं है। किसी को बस्ती छोड़ने की आवश्यकता नहीं है।

हमारी सरकार में सबका साथ सबका विकास और कानून का राज्य स्थापित होगा। कानून को हाथ में लेने का अधिकार किसी को नहीं है। ऐसा कुछ है तो जाँच कराएंगे।

Courtesy : Bolta Hindustan, boltahindustan.com/dalit-upset-with-the-castist-attitude-of-up-police/

Our Sponsors
Loading...