मुस्लिम मजदूर को बेरहमी से मारने वाले शंभू को बचाने की फ़िराक में हैं राजस्थान पुलिस?

651

पिछले दिनों राजस्थान के राजसमंद में एक मुस्लिम मजदूर को बेरहमी से मारकर जला देने वाले शम्भूलाल नाम के शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन इसके ऊपर चल रही कार्यवाई को देख कर ऐसा लग रहा है कि पुलिस इस सरफिरे हत्यारे को कहीं न कहीं बचाने की कोशिश कर रही है.

 

दरअसल राजस्थान पुलिस ने मजदूर के हत्यारे शम्भूलाल को मानसिक रूप से बीमार बता दिया है. राजस्थान पुलिस के डीजीपी ओपी गल्होत्रा ने बताया है कि शंभूलाल मानसिक रूप से बीमार है और इसके पीछे का कारण उसकी बरोजगारी है. शम्भु इससे पहले एक मार्बल यूनिट में काम करता था. लेकिन पिछले एक साल से वो बेरोजगार है.

शम्भु की तीन बेटियां हैं. जिनमें से एक बेटी भी मानसिक रूप से बीमार है. मालूम हो कि अगर पुलिस और डॉक्टर शम्भु को मानसिक रूप से बीमार घोषित कर देते हैं तो उसे सजा में विशेष छूट मिल सकता है.




वैसे अगर इस पूरे मामले पर अगर गौर करें तो मामले में कहीं न कहीं कुछ गड़बड़ी जरुर है. क्योंकि जांच की शुरुआत में शंभू ने पुलिस से कहा था कि एक साल पहले वह एक पड़ोसी को बचाने पश्चिम बंगाल गया था. जहां उसे पता चला कि अफरजुल(मृतक) ने लड़की को अपने प्रेम जाल में फंसाया और उसे भगा ले गया. मैं उस लड़की को राजसमंद वापस लेकर आया और तबसे अफरजुल मेरे खिलाफ षडयंत्र बना रहा था. उसने कई बार मुझे और मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी. तो मेरे पास कोई और रास्ता नहीं था.’

 

फिलहाल इस मामले की जांच जारी है. मामले को कोर्ट में पेश करने से पहले पुलिस सारे सबूत जुटाने में लगी हुई है. ताकि दोषी को सजा मिल पाए. आपको बता दें कि इस हत्या के वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद से कई लोग इस मामले को भी राजनीति से जोड़ कर देखने लगे हैं.

        Loading…

Our Sponsors
Loading...