महिला डॉक्टर ने वायरल कर दिए महंत के अश्लील फोटो, ऐसे घिनौने मैसेज भेजता था बाबा

633

मंदसौर के सीतामऊ में रहने वाले एक महंत एवं पुजारी संघ अध्यक्ष पर लखनऊ निवासी एक डॉक्टर महिला ने अश्लील चैटिंग का आरोप लगाया है। महंत की चैट महिला ने सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है। चैट में न्यूड फोटो भेजने से लेकर कई अश्लील बातों के साथ संत ने महिला से प्यार का इजहार भी किया है। इधर, महंत का कहना है कि उनकी आईडी का दुरुपयोग हुआ है। फेसबुक और वाट्सएप के बारे में वे ज्यादा नहीं जानते, किसी और ने इन्हें चलाया है।

व्हाट्सएप्प से लिया गया स्क्रीनशॉट.





महिला डॉक्टर द्वारा अश्लील चैटिंग का आरोप लगाने के बाद सीतामऊ निवासी रामकुंड के महंत व पुजारी संघ अध्यक्ष जितेंद्रदास को लेकर विरोध शुरू हो गया है। चैट के वायरल होते ही सामाजिक संगठनों ने रविवार को विरोध स्वरूप महंत का पुतला फूंका। कई संगठनों ने केस दर्ज करने की मांग भी की है। टीआई ने भी संबंधित महिला से फोन पर मामले को लेकर चर्चा की। महिला ने अगले महीने सीतामऊ पहुंचकर शिकायत की बात कही है।

खुद ही सारे फोटो और मैसेज वायरल किए

व्हाट्सएप्प से लिया गया स्क्रीनशॉट-01


महिला ने महंत के खिलाफ खुद ही सारे फोटो और मैसेज वायरल किए हैं। इनमें से कुछ फोटो और मैसेज काफी अश्लील हैं। महिला के अनुसार वह और सीतामऊ निवासी महंत हिंदू राष्ट्र सेना के वाट्सएप ग्रुप में सदस्य थे। एक माह पहले महंत ने सेना के संत के खिलाफ कुछ अश्लील कमेंट्स किए थे। इस पर जानकारी निकालने के लिए महिला ने फर्जी आईडी बनाकर महंत से चैटिंग शुरू की। इसके बाद महंत अश्लीलता पर उतरा गया। इसके बाद महिला ने सारी पोस्ट वायरल कर दी, ताकि महंत की सारी सच्चाई लोगों के सामने आ सके।

मैंने महिला को आज तक नहीं देखा

व्हाट्सएप्प से लिया गया स्क्रीनशॉट-02


उधर, महंत जितेंद्रदास का कहना है कि जो महिला मुझ पर आरोप लगा रही है उसे मैंने आज तक नहीं देखा। फेसबुक-वाट्सएप भी मैं ज्यादा नहीं जानता। हो सकता है किसी और ने मेरे वाट्सएप-फेसबुक आईडी का दुरूपयोग किया हो। मैं दिल्ली में हूं, मामले की सायबर जांच कराऊंगा। इसके बाद सब साफ हो जाएगा।

महंत ने और भी महिलाओं का शोषण किया…

व्हाट्सएप्प से लिया गया स्क्रीनशॉट-03

जिला पंचायत सदस्य रमेश गुर्जर, हनुमान झंडा समिति सदस्य मनोज शुक्ला, भाजपा मंडल अध्यक्ष राधेश्याम बाथर ने बताया महंत ने नगर में भी तीन महिलाओं का शोषण किया, लेकिन उसके प्रभाव के चलते महिलाओं ने आवाज नहीं उठाई। अब आवाज उठी है तो उसके साथ-साथ सभी महिलाओं को न्याय मिलना चाहिए। यदि ऐसा नहीं होता तो मामले के विरोध में आंदोलन किया जाएगा। सभी संगठन सदस्यों ने लदुना चौराहे पर महंत जितेंद्रदास का पुतला फूंका और नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया।

आईटी एक्ट में हो सकती है कार्रवाई

अश्लील मैसेज व फोटो भेजने के मामले में पुलिस महंत पर आईटी एक्ट में कार्रवाई कर सकती है। यदि महिला शिकायत भी नहीं करती तो भी पुलिस साक्ष्यों को देखते हुए खुद भी संज्ञान ले सकती है।

व्हाट्सएप्प से लिया गया स्क्रीनशॉट-04

शिकायत मिली है, जांच कर रहे हैं

टीआई ने बताया महंत के खिलाफ सामाजिक संगठन और महिला ने शिकायत की है। हालांकि महिला यहां नहीं होने से उससे फोन पर ही बात हुई है। महिला ने अगले महीने यहां आकर रिपोर्ट दर्ज करवाने की बात कही है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

        Loading…

Our Sponsors
Loading...