पश्चिम बंगाल में जो हो रहा है उसके पीछे का सच जानेंगे तो आपके होश उड़ जाएंगे!

568

पश्चिम बंगाल में हो रही हिंसा के लिए कुछ लोग मुसलमानों और ममता बनर्जी के लिए जिम्मेदार बता रहे हैं लेकिन सोशल मीडिया में कुछ बातें ऐसी भी चल रही हैं जो सच्चाई समझने के लिए काफी हैं. ख़बरों में खूब जोर शोर से चलाया जा रहा है कि एक नाबालिग ने आपत्तिजनक पोस्ट फेसबुक पर कर दी जिसके कारण वहां के मुसलमान हिंसा पर उतर आये. इस खबर को खूब रंग दिया जा रहा है बल्कि यूँ कहे तो बिकाऊ मीडिया अपने भक्ति का रंग दिखा रही है लेकिन इसके पीछे कुछ और तथ्य हैं जिसे नही बताया जा रहा है लेकिन आज हम आपको वो तथ्य बतायेंगे जिससे सच और गलत की परख आप कर सकें.

 

पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले में एक लड़के ने फेसबुक पर एक पोस्ट कर दी और उसको लेकर बवाल हुआ है लेकिन आप जानते हैं कि उस पोस्ट में ऐसा क्या था कि लोग हिंसा पर उतर आये ? नही तो हम बताते हैं दरअसल उस लड़के ने पैगम्बर मोहम्मद साहब के बारे में कुछ आपत्तिजनक चीजें फेसबुक पर लिखकर कट्टर बनने की कोशिश कर रहा था और कुछ लोग उसे समर्थन कर रहे थे. अब आप खुद सोचिये कि जिसे लोग नाबालिग कह रहे हैं उसे पैगम्बर मोहम्मद साहब के बारे में क्या पता कि क्या सही है और क्या गलत. ज़ाहिर सी बात है कि उस लड़के के पीछे कुछ अराजक तत्व लगे हैं और इस काम में इनका ही दिमाग इस्तेमाल हुआ है.

सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है कि जिसे लोग नाबालिग कह रहे हैं वो लड़का 11वीं कक्षा में पड़ता है और और अगर फेसबुक पर आईडी है तो ज़ाहिर सी बात है कि इतना भी नासमझ नही है वो. दूसरी बात जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है वो ये कि पश्चिम बंगाल में ममता दीदी की सरकार है और बीजेपी चाहकर भी अपने मंसूबों में कामयाब नही हो पा रही है, ऐसे में उसे तलाश है एक मुद्दे की जो उसे सत्ता में वापस ले आ सके.

इसलिए कहा जा रहा है कि ममता सरकार को बदनाम करने के लिए लोगों का इस्तेमाल करके दंगे की सुनियोजित घटनाएं करायी जा रही है और प्रदेश का माहौल खराब किया जा रहा है. इस मुद्दे पर पश्चिम बंगाल के काफी मुसलमान ऐसे हैं जिन्होंने इस घटना का विरोध किया है और शांति की बात कर रहे हैं लेकिन लोगों को सिर्फ उन्ही के चेहरे दिख रहे हैं जो दंगे में शामिल हैं लेकिन शांति की अपील करने वाले मुसलमान भाइयों को वो नापसंद करते हैं. लोग कितना भी कुछ कर लें लेकिन अपने मंसूबों में कामयाब नही होंगे.

Our Sponsors
Loading...