दलित बेटी मायावती को “वैश्या” कहने वाले दयाशंकर सिंह को भाजपा ने बनाया उपाध्यक्ष

113

चार बार यूपी की मुख्यमंत्री बनने वाली और बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले नेता को यूपी बीजेपी ने अपना उपाध्यक्ष बनाया है. यूपी बीजेपी के अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने अपनी सदस्यीय टीम के लिए 12 नए चेहरों को चुना है. बीजेपी अध्यक्ष की 38 सदस्यीय टीम में 16 प्रदेश मंत्री, 15 उपाध्यक्ष और 7 प्रदेश मंत्रियों की नियुक्ति की गई है.

जुलाई 2016 में मायावती पर यूपी बीजेपी के तब के उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने अमर्यादित टिप्पणी की थी. दयाशंकर सिंह ने अपने एक बयान में मायावती की तुलना वैश्या से कर दी थी. इसके साथ ही उन्होंने मायावती पर आरोप लगाया था कि जो उन्हें ज्यादा धन देता है वह उसे टिकट बेचती हैं. हालांकि मायावती को अपशब्द कहने के बाद चारों तरफ से दबाव पड़ने पर भाजपा ने उन्हें छ: साल के लिए निष्कासित कर दिया था.



दयाशंकर सिंह को पार्टी से निकालने के बाद बीजेपी ने उनकी पत्नी स्वाति सिंह को यूपी के विधानसभा चुनाव में टिकट दिया था और उनकी पत्नी स्वाति सिंह द्वारा विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद उन्हें फिर से पार्टी में शामिल कर लिया गया था लेकिन उन्हें कोई पद नहीं दिया गया था.

लेकिन एक बार फिर पार्टी ने उन्हें यूपी बीजेपी का उपाध्यक्ष बना दिया है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने सूबे की जिम्मेदारी देते हुए कई नामों की घोषणा की है. शुक्रवार को की गई इस घोषणा में मुजफ्फरनगर दंगों के आरोपी सांसद संजीव बालियान का नाम भी शामिल है, जिन्हें उपाध्यक्ष पद दिया गया है. केंद्र में मंत्री पद जाने के बाद सांसद संजीब बालियान की फिर से टीम में वापसी हुई है.

इसके अलावा कांता कर्दम, जेपीएस राठौर तथा संजीव सैनी को भी उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है. पार्टी ने यादव कार्ड खेलते हुए अपने युवा संगठन की कमान सुभाष यादव को सौंपी है.

        Loading…

Our Sponsors
Loading...