जगन्नाथ मिश्रा ने किया खुलासा, बता दिया कि लालू प्रसाद को किसने फंसाया

308

चारा घोटाला में लालू प्रसाद को दोषी करार दिए जाने से बिहार की सियासत गरमाई हुई है. खूब बयानबाजी हो रही है. राजद से बीजेपी और नीतीश कुमार पर आरोपों की झड़ी लग रही है. कहा जा रहा है कि लालू प्रसाद को बीजेपी ने साजिश के तहत फंसाया है. लेकिन इस मामले में बरी हुए बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा ने बड़ा बयान दे दिया है. जगन्नाथ मिश्रा ने इसके पीछे कांग्रेस नेताओं का हाथ बताया है. साथ ही मिश्रा ने यह भी बताया कि उनका नाम किसने इस घोटाला में शामिल कर दिया.

चारा घोटाले के एक मामले में अदालत से दोषमुक्त करार दिए गए पूर्व मुख्यमंत्री डा. जगन्नाथ मिश्र ने यह कहकर राजनीतिक तापमान बढ़ा दिया है कि राजद सुप्रीमो लालू यादव को पशुपालन घोटाले में भाजपा ने नहीं पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने फंसाया था, जबकि उन्हें तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सीताराम केसरी ने।

मुझे केसरी ने फंसा दिया था

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि चारा घोटाले में लालू प्रसाद को प्राथमिक अभियुक्त बनाए जाने के बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री देवगौड़ा चाहते थे कि लालू प्रसाद इस्तीफा दे दें, लेकिन वह इसके लिए तैयार नहीं हुए। इसके बाद देवगौड़ा ने ही लालू कों फंसा दिया।

उन्होंने कहा इस मामले में मेरे ऊपर सिर्फ यह आरोप है कि मैंने क्षेत्रीय पशुपालन निदेशक श्याम बिहारी सिन्हा को सेवा विस्तार देने के लिए सिफारिशी पत्र लिखा था।

        Loading…

डा. मिश्र ने कहा कि दरअसल वर्ष 1996 में कांग्रेस के समर्थन से केंद्र में संयुक्त मोर्चा की सरकार चल रही थी। उस वक्त सीताराम केसरी कांग्रेस के अध्यक्ष थे। लालू यादव से उनके अच्छे संबंध थे। केसरी ने ही दबाव डलवाकर मुझे चारा घोटाले में अभियुक्त बनवा दिया।

सीताराम केसरी (फाइल फोटो)

न्याय पर सवाल उठाना आश्चर्यजनक

डा. मिश्र ने देवघर कोषागार से अवैध निकासी संबंधी चारा घोटाले के एक मामले में सीबीआइ कोर्ट का फैसला आने के बाद राजद नेताओं के उनको दोषमुक्त करार देने और लालू यादव को दोषी करार देने पर जातीय रंग दिए जाने पर आश्चर्य व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि न्यायिक प्रक्रिया की निष्पक्षता पर सवाल उठाना आश्चर्यजनक है।

बरी होने के बाद जग्‍गनाथ मिश्रा ने फिर से सफाई देते हुए कहा कि इस घोटाले में मेरा नाम बेवजह शामिल किया गया था.  यह सब तत्कालीन कांग्रेस अध्‍यक्ष सीताराम केसरी ने किया. वे उत्‍तर भारत के नेताओं को बढ़ते नहीं देखना चाहते थे. यही वजह है कि उत्‍तर भारत में कांग्रेस कमजोर होती गई.

उन्‍होंने कहा कि एचडी देवगौड़ा ने लालू यादव को चारा घोटाले में फंसाया है. बीजेपी के उपर लालू और उनकी पार्टी जो आरोप लगाते हैं, वह गलत है. पूर्व मुख्‍यमंत्री मिश्रा ने कहा कि जिस समय चारा घोटाला का मामला सामने आया था उस समय इंद्र कुमार गुजराल और एचडी देवगौड़ा की सरकार थी. देवगौड़ा  ने ही लालू को चारा घोटाले में फंसाया.

बता दें कि चारा घोटाला मामले में जगन्नाथ मिश्रा और लालू प्रसाद दोनों आरोपी थे. काफी दिनों तक चली सुनवाई के बाद जब जजमेंट आया तो वह चौंकाने वाला रहा. लालू प्रसाद दोषी करार दिए गए थे. तो वहीं जगन्नाथ मिश्रा को रिहा कर दिया गया. हालांकि इस मामले की जांच कर चुके पूर्व सीबीआई डायरेक्टर जोगिंदर सिंह की किताब में जगन्नाथ मिश्रा की भूमिका भी बताई गई है. राजद लगातार इस पर हंगामा भी कर रहा है कि यह सब बीजेपी का खेल है. तेजस्वी यादव लगातार मीडिया के सामने आकर बीजेपी पर आरोप लगा रहे हैं. लेकिन जगन्नाथ मिश्रा के इस बयान से अब नया मोड़ आने लगा है.

        Loading…

Our Sponsors
Loading...