गुजरात विधानसभा चुनाव: वोटरों को पैसे बांट रहे बीजेपी-कांग्रेस, कैमरे में कैद हुए नेता

209

गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा और कांग्रेस नेताओं पर मतदाताओं को लुभाने के आरोप लगे हैं। नेताओं पर आरोप है कि ये मतदाताओं को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए उन्हें पैसे बांट रहे हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई ने ऐसी ही कुछ तस्वीर जारी की है, जिनमें भाजपा और कांग्रेसी नेता स्थानीय लोगों को पैसे बांट रहे हैं।

सामने आई तस्वीरें कांग्रेस कॉर्पोरेटर चिराग जावेरी और भाजपा कॉर्पोरेटर कल्पेश पटेल की हैं। खबर के अनुसार तस्वीरें बीते रविवार (29 अक्टूबर) वडोदरा की है। वहीं यूट्यूब पर घटना का वीडियो भी सामने आया है। जिसमें नेता लोगों को पैसों के साथ एक नारियल भी देते नजर आए। मामले में भाजपा कॉर्पोरेटर कल्पेश पटेल का कहना है, यहां मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं का सम्मान करने की परंपरा सालों से रही है। हम इसी परंपरा का पालन कर रहे हैं। हम अपनी वंश परंपरा निभा रहे हैं।



हम हर साल ये सेवा करते हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस कॉर्पोरेटर चिराग जावेरी ने कहा है, पैदल यात्री यहां से राजस्थान पीर जा रहे हैं। ये परंपरा पिछले तीस सालों से चली आ रही है। यहां से जो भी श्रद्धालू जाते हैं हम उनकी इसी तरह से सम्मान करते हैं। उनको तिलक लगाते हैं, नारियल देते हैं। हार फूल देते हैं और पचास रुपए देते हैं। वो लोग भगवान के चरणों में इन्हें रख देते हैं। वडोदरा के लोगों के लिए प्रार्थना करते हैं।

 

गौरतलब है कि चुनाव आयोग पहेल ही गुजरात में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया। आयोग ने दो चरणों में चुनाव कराने का फैसला किया है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त ए के जोति ने राज्य विधानसभा चुनाव कार्यक्रम घोषित करते हुए बताया कि गुजरात की 182 सीटों के लिए पहले चरण में 89 सीटों पर नौ दिसंबर को चुनाव होंगे।

        Loading…

वहीं, दूसरे चरण में 93 सीटों पर 14 दिसंबर को मतदान होगा। जोती ने बताया कि गुजरात में दोनों चरणों के मतदान के बाद 18 दिसंबर को मतगणना होगी। निर्वाचन प्रक्रिया की औपचारिक शुरुआत 14 नवंबर को विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही होगी। इसके साथ ही राज्य के कुल 33 जिलों में से 19 जिलों में होने वाले पहले चरण के मतदान से जुड़ी 89 सीटों के लिये उम्मीदवार नामांकन पत्र दाखिल कर सकेंगे।

उन्होंने बताया कि दूसरे चरण में शेष 93 सीटों पर चुनाव के लिए 20 नवंबर को अधिसूचना जारी की जायेगी। आयोग द्वारा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा किए जाने के साथ ही राज्य में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है। जोती ने बताया कि गुजरात में दोनों चरणों के मतदान के लिए कुल 50128 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, इन पर राज्य के 4.33 करोड़ मतदाता वीवीपैट युक्त ईवीएम के जरिए मतदान कर सकेंगे। आयोग ने राज्य में पूरी तरह से महिलाओं द्वारा संचालित 182 मतदान केंद्र भी बनाए हैं। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में इस तरह का एक मतदान केंद्र होगा। उन्होंने बताया कि समूची चुनाव प्रक्रिया में शांतिपूर्ण मतदान सुनिश्चित करने के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इसके अलावा चुनाव आचार संहिता के पालन के लिये सोशल मीडिया और अन्य प्रचार माध्यमों पर भी निगरानी के व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में आयोग द्वारा हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए निर्वाचन प्रक्रिया 16 अक्तूबर को शुरू हो गई है। हिमाचल प्रदेश में एक ही चरण में नौ नवंबर को मतदान होगा जबकि मतगणना गुजरात विधानसभा चुनाव के साथ 18 दिसंबर को ही होगी। जोती ने बताया चुनाव खर्च की सीमा का पालन सुनिश्चित करने के लिए हर उम्मीदवार को अलग से बैंक खाता खोलना होगा। वहीं शांतिपूर्ण मतदान के लिए आयोग द्वारा गठित निगरानी दस्तों को जीपीएस से जोडा जाएगा, जबकि मतदान केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की जायेगी।

Our Sponsors
Loading...