गुजरात में भाजपाई ही छोड़ रहे हैं भाजपा का दामन, 13 पदाधिकारियों और 2 हजार सदस्यों के इस्तीफे से खलबली

229


गुजरात बीजेपी में असंतोष गहराता जा रहा है। उम्मीदवारों की घोषणा के बाद से लगातार पार्टी नेता, मंत्री, सांसद, कार्यकर्ता इस्तीफा दे रहे हैं। आंणद जिले में बीजेपी की हालत कुछ ज्यादा ही खराब होती नजर आ रही है।

जिले की ठासरा विधानसभा सीट पर कांग्रेस से पाला बदलकर भाजपा में जुड़े रामसिहं परमार को टिकट दी गई है। पार्टी के इस फैसले के बाद से ही स्थानीय भाजपा नेता और कार्यकर्ता जमकर हंगामा कर रहे हैं।




सोमवार को भाजपा के 13 पदाधिकारियों ने दो हजार सदस्यों के साथ इस्तीफा दे दिया है। इससे दो दिन पहले कांतिभाई परमार ने आंणद जिला पंचायत के सदस्य पद एंव पार्टी से सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था।

खेड़ा जिला अल्पसंख्क मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष प्रवीणसिंह राठौड़ का कहना है कि वह पिछले 20 साल से सक्रिय कार्यकर्ता है, लेकिन पांच टर्मों से पार्टी उपेक्षा कर रही है। जिससे असंतोष व्याप्त है। पार्टी बदलकर जुड़ने वाले रामसिंह परमार को टिकट देने के विरोध में इस्तीफा दिया है और साथ ही 2 हजार कार्यकर्ता भाजपा ने भी सभी पद एंव प्राथमिक सदस्यों से इस्तीफा दिया है।

        Loading…

गौरतलब है कि पंचमहल से बीजेपी सासंद प्रभात सिंह चौहान हाईकमान को धमकी दी है कि अगर उनकी पत्नी को विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया गया तो वो खुद निर्दलीय के तौर पर विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे। इससे अलावा पाटन से बीजेपी के सांसद लीलाधर वाघेला ने कहा था कि अगर उनके बेटे को टिकट नहीं मिला तो वो सांसद पद से इस्तीफा दे देंगे।

Our Sponsors
Loading...