कुमार विश्वास को BJP ज्वाइन कराने उनके घर पहुंचे अमित शाह. भाजपाई अपने पुराने पोस्ट डिलीट करने में जुटे!

600

गाज़ियाबाद : देश के सबसे कम उम्र के मार्गदर्शक मण्डल के नेता और संदिग्ध रूप से कवि डॉक्टर कुमार विश्वास को उनकी पार्टी ने आज कल वैसे इग्नोर कर रखा है जैसे लोग यूट्यूब पर आने वाले एड को कर देते हैं।

आम आदमी पार्टी के सुप्रीमों अरविन्द केजरीवाल ने उनकी जगह अजग़र गुप्ता को राज्यसभा भेज कर उनके साथ वही सुलूक किया जो प्रधानमंत्री और फिर राष्ट्रपति पद के सपने दिखाकर आडवाणी जी के साथ किया गया था।



बहरहाल इस AAP के इस झगड़े को मद्देनजर रखते हुए, दूसरी पार्टी के लोगों को अपनी पार्टी में शामिल करने के लिए विश्व भर में ख्याति पा चुके भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने मौके का फायदा उठाते हुए कुमार विश्वास को बीजेपी में शामिल करने उनके घर पहुंच गए।

कुमार विश्वास के रसोइए भीतम ने बताया कि “शाबजी घर पर ही थे, दरवाजे की घण्टी बजी, मैंने ही दरवाजा खोला, सामने एक मोटे से आदमी खड़े थे, मैंने शाबजी को आवाज दिया कि देखिये आपसे कोई मिलने आया है, उन मोटे शाब को अपने घर अचानक से देख के हमाए शाबजी एकदम से डर गए, लेकिन इससे पहले कि हमाए शाबजी बेहोश होकर गिरते, वो शाब बोल पड़े- घबराओ नहीं केबी! आज हम पार्टी के काम से आए हैं”

थोड़ा साँस लेने के बाद भीतम ने आगे बताया कि “बाहर से आए उन शाबजी ने हमाए शाबजी को अपनी किसी पार्टी में ज्वाइन कराने की बात करर्हे थे. हमाए शाबजी ने पहले तो ना-नुकर किया, फिर जब उन शाबजी ने हमाए शाबजी के कन्धे पर हाथ रख के समझाया तो हमाए शाबजी झट से मान गए”

“फिर आगे क्या हुआ? कब पार्टी ज्वाइन करेंगे तुम्हारे साहबजी?” के जवाब में भीतम ने बताया कि- इस बारे में हमे कोई ऐडिया नही है शाब, क्योंकि मैं आगे की बात सुनता कि हमाए शाबजी ने हमें ये कहते हुए वहां से भेज दिया कि “आज मटर पनीर बनाओ भीतम”

भीतम के इस खुलासे के बाद बीजेपी के तमाम सोशल मीडिया एक्टिविस्ट और समर्थक कुमार विश्वास पर लिखे गए अपने सारे पुराने मार्मिक पोस्ट डिलीट करने में जुट गए हैं, तो वहीं AAP के ट्रोल उनके स्क्रीन शॉट सेव करने जुटे हैं!

        Loading…

Our Sponsors
Loading...