अमित शाह के खिलाफ सुनवाई कर रहे ‘जस्टिस लोया’ की मौत की जांच होनी चाहिए-गोवा कांग्रेस अध्यक्ष की मांग,

144

सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के कामकाज पर सवाल उठाए। जिसके बाद आज गोवा कांग्रेस अध्यक्ष शांताराम नाइक ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ आपराधिक मुकदमा को फिर से खोलने की मांग की है।

शांताराम नाइक ने जस्टिस लोया की मौत पर सवाल उठते हुए कहा, “कल सुप्रीम कोर्ट के जजों के प्रेस कांफ्रेंस के बाद विशेष सीबीआई जज बीएच लोया के मौत की दुबारा से जांच होनी चाहिए जिसमे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी आरोपी थे।”

बता दें कि जज बृजमोहन लोया सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले को देख रहे थे जिसके मुख्य आरोपी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह थे। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामलें की कार्रवाई गुजरात से बाहर करने का आदेश दिया था जिसके बाद ये मामला सीबीआई अदालत में जज लोया के पास आया।

लोया ने अमित शाह के उपस्थित न होने पर सवाल उठाए और सुनवाई की तारीख 15 दिसम्बर 2014 तय की लेकिन 1 दिसम्बर को ही उनकी मौत हो गई। इसके बाद न्यायधीश एमबी गोसवी आये, जिन्होंने दिसम्बर 2014 के अंत में ही अमित शाह को इस मामले में बरी कर दिया।

कल सुप्रीम कोर्ट के जजों ने प्रेस कांफ्रेंस में मामला जस्टिस लोया से भी जुड़े होने का दावा किया, जिससे एक बार फिर से जस्टिस लोया की संदिग्ध मौत पर चर्चे होने लगे है।

        Loading…

Our Sponsors
Loading...