अगर नोटबंदी और जीएसटी ‘जश्न’ है तो BJP गुजरात चुनाव में इसपर वोट क्यों नहीं मांगती है ?- जीतू पटवारी

253

बीजेपी नोटबंदी को लेकर जश्न मनाने को लेकर उत्साहित है। मगर वहीँ विपक्षी दल नोटबंदी की पहली सालगिरह पर बीजेपी को आड़े हाथों ले रहे है।

कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने ट्वीट करते हुए कहा यदि नोटबंदी और जीएसटी भाजपा के लिए जश्न का कारण है तो गुजरात में “नोटबंदी और जीएसटी” के नाम पर वोट क्यों नहीं मांगते?








नोटबंदी और जीएसटी को लेकर विपक्ष लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रहा है। वैसे कोई भी नहीं कह सकता की इन दोनों के फैसले की वजह से जनता खुश हुई हो बल्कि हमेशा अगर मगर स्थिति बनी रही, ऐसे में बीजेपी का जश्न मानना विपक्षी दलों को रस नहीं आ रहा है।

जहां एक तरफ बीजेपी आने वाली 8 नवंबर को जश्न मनाने की तैयारी में जुटी हुई है। वहीं विपक्षी दल इस दिन को काला दिवस के रूप में मनायेंगें।

गौरतलब है कि पिछले साल  8 नवंबर को 500 और 1000 के नोट प्रधानमंत्री मोदी ने चलन से बंद करवा दिए थे। जिसका कारण कालाधन पर लगाम लगाना, आतंकियों को आर्थिक चोट देनी जैसी बात कही गई थी। मगर केंद्र में बैठी मोदी सरकार इन सभी मुद्दों पर विफल रही है।

        Loading…

बता दे कि नोटबंदी के कुछ ही महीने बाद जीएसटी लागू किया गया। जिससे आर्थिक संकट जैसी स्थिति पैदा हुई और जीडीपी में भी गिरावट दर्ज की गई। जो आने वाले विधानसभा चुनावों में बीजेपी के लिए दिक्कत पैदा कर सकती है।

Our Sponsors
Loading...